पैन कार्ड बनाना आसान कर देगा यह ऐप, आईटी रिटर्न भी भर सकेंगे

64

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट एक ऐसा ऐप डेवलप कर रहा है, जिसके जरिए टैक्स भरा जा सकेगा। इसके अलावा इस ऐप के जरिए पैन कार्ड के लिए भी अप्लाई किया जा सकेगा और बेहद कम समय में कार्ड मिल सकेगा। डिपार्टमेंट के एक ऑफिशियल के मुताबिक यह ऐप अभी शुरुआती स्टेज में है। फाइनेंस मिनिस्ट्री से अप्रूवल मिलने के बाद इसका पायलट प्रोजेक्ट शुरू कर दिया जाएगा।

ज्यादा लोग आ सकेंगे टैक्स के दायरे में

– एक न्यूज एजेंसी की खबर के मुताबिक, डिपार्टमेंट एक ऐसे प्रोजेक्ट पर भी काम कर रहा है, जिसमें आधार बेस्ड E-KYC की जाएगी और चंद मिनटों में लोगों को पैनकार्ड मिल सकेगा।
– डिपार्टमेंट का मकसद पैन कार्ड मिलने की प्रोसेस आसान करने और ज्यादा से ज्यादा लोगों को टैक्स के दायरे में लाने का है।
– एक ऑफिशियल ने बताया, “इस ऐप का कॉनसेप्ट अभी शुरुआती फेज में है। इसके जरिए ऑनलाइन टैक्स भरना, पैन के लिए अप्लाई और टैक्स रिटर्न ट्रैक किया जा सकता है।”
– “फाइनेंस मिनिस्ट्री का अप्रूवल मिलने के बाद पायलट प्रोजेक्ट को लॉन्च किया जाएगा।”
– आधार बेस्ड e-KYC सुविधा के जरिए पैन के लिए अप्लाई करने वालों की डेट ऑफ बर्थ, एड्रेस और बायोमेट्रिक थम्ब इम्प्रेशन के जरिए पहचान हो सकेगी।
111 करोड़ आधार नंबर जारी किए गए
– डिपार्टमेंट के मुताबिक अभी तक 111 करोड़ आधार नंबर जारी किए गए हैं। इनका यूज सिम कार्ड लेने, बैंक अकाउंट्स खोलने, सब्सिडी ट्रांसफर के अलावा आधार बेस्ड पेमेंट सिस्टम के जरिए डिजिटल पेमेंट करने में किया जा रहा है।
हर साल 2.5 करोड़ लोग करते हैं पैन के लिए अप्लाई
– सरकार के मुताबिक हर साल करीब 2.5 करोड़ लोग पैन कार्ड के लिए अप्लाई करते हैं। अभी फिलहाल देश में 25 करोड़ पैन कार्ड होल्डर्स हैं।
– सरकार ने 50 हजार से ऊपर के कैश विदड्रॉअल और 2 लाख से ऊपर की कैश खरीददारी के लिए पैन कार्ड जरूरी कर रखा है।
– टैक्स डिपार्टमेंट सरकार के डिजिटल इंडिया प्रोग्राम को बढ़ावा देने के लिए नए मोबाइल ऐप पर काम कर रहा है।
नए सिक्युरिटी फीचर्स के साथ आ रहा है पैन कार्ड
– एक जनवरी से डिपार्टमेंट नए सिक्युरिटी फीचर्स वाले पैन कार्ड जारी कर रहा है।
– नए पैनकार्ड टेम्पर-प्रूफ हैं और इनमें हिंदी और इंग्लिश दोनों में कंटेट लिखा गया है।
80%
Awesome
  • Design

You might also like More from author

Comments

Loading...