Google Talk को Google ने बंद करने का फैसला क्‍यों लिया

206

Google Talk पर जाने वाले यूजर्स को गूगल सीधे हैंगआउट्स पर डायवर्ट करेगा

दुनिया के प्रमुख सर्च प्लेटफॉर्म Google ने आखिरकार अपने एक प्रमुख चैट (मैसेजिंग) Google Talk को बंद कर दिया है। मिली जानकारी के अनुसार काफी लंबे समय से Google अपने Google Talk यूजर्स को Hangouts से बदलने के लिए कह रहा था।

आपको बता दें कि साल 2005 में Gmail यूजर्स को इंस्टैंट मैसेजिंग से जोड़ने के लिए Google ने Google Talk को पेश किया था और इसके आठ साल बाद Google ने Hangouts को लांच किया था। इसके बाद 2013 से Google, GTalk की जगह Hangouts को ज्यादा प्रमुखता से सामने ला रहा था।

गूगल टॉक को बंद करने के बाद अब यूजर्स केवल हैंगआउट्स का ही प्रयोग कर पाएंगे। मगर यूजर चाहें तो हैंगआउट्स की सैटिंग्स में जाकर उसे गूगल टॉक के जैसे दिखने व प्रयोग करने का अनुभव भी ले सकते हैं। गूगल द्वारा Google Talk को बंद करने के लिए कंपनी ने ऑफिशियल वेबसाइट पर जानकारी दी है।

Google Talk के बंद होने के बाद यूजर्स के पास गूगल के और भी कई एप्लिकेशन उपलब्ध हैं जो कि इंस्टेंट मैसेजिंग के साथ ही वीडियो कॉलिंग फीचर का लाभ उठाया जा सकता है। जिनमें हैंगआउट्स के अलावा पिछले साल लांच किए गए गूगल ऐलो और डुओ एप भी शामिल हैं।

मार्च में कंपनी द्वारा Google Talk को बंद करने की घोषणा के बाद गूगल ने Google Talk उपयोग किए जाने का ऑप्शन जारी रखा था। किंतु अब यदि आप Google Talk ओपेन करेंगे तो सीधे हैंगआउट्स ओपेन होगा। यानि Google Talk पर जाने वाले यूजर्स को गूगल सीधे हैंगआउट्स पर डायवर्ट करेगा।

You might also like More from author

Comments

Loading...