विकल्‍प स्‍कीम भारतीय रेलवे का नई रिजर्वेशन सिस्‍टम, पहली अप्रेल से होगी लागू

waiting list वाले यात्रियों को मिलेगा फायदा

96

Railway Ministry ने announcement कर दिया है कि एक New Reservation System ‘विकल्प’, व एक विकल्पीय ट्रेन अकॉमोडेशन स्कीम (एटीएएस) 1 अप्रैल से लागू होगा। विकल्प स्कीम के तहत, waiting list वाले यात्री Rajdhani, Shatabdi, या दूसरी Premium / Special Train में यात्रा का विकल्प चुन सकते हैं, चाहें उन्होंने उसी destination के लिए किसी दूसरे Mail / Express Train में ticket booking किया हो। इसके लिए कोई extra charge भी नहीं देना होगा।

Vikalp skim का उद्देश्य सभी बड़े रूट पर प्रीमियम ट्रेनों में खाली रहने वाली सीट का उपयोग करना है। अभी, रेलवे इस स्कीम की शुरुआत कुछ रूट पर Pilot project के तहत कर रही है।

विकल्प स्कीम की ख़ास बातें

अभी विकल्प स्कीम सिर्फ E-ticket के लिए ही उपलब्ध होगी। इस स्कीम के तहत, waiting list वाले यात्रियों को विकल्प स्कीम चुनने का मौका दिया जाएगा। विकल्प, चुनने वाले उन यात्रियों को जो चार्ट बनने के बाद भी पूरी तरह से वेट-लिस्ट में रहते हैं उन्हें ही किसी दूसरी ट्रेन में सीट दी जाएगी।

यात्रियों से इसके लिए अतिरिक्त शुल्क नहीं लिया जाएगा और ना ही किराए में फर्क होने पर कोई रिफंड वापस दिया जाएगा। किसी दूसरी ट्रेन में विकल्प अकॉमोडेशन मुहैया कराए जाने पर साधारण यात्री की सुविधा मिलेगी और वह अपग्रेड करने के योग्य होगा।

रेलवे ने कहा कि विकल्प स्कीम से सभी ट्रेनों में खाली रहने वाली सीट का उपयोग किया जा सकेगा।विकल्प स्कीम चुनने वाले वेट-लिस्ट वाले यात्रियों को चार्ट बनने के बाद पीएनआर स्टेटस चुनना होगा।नई स्कीम के तहत दूसरी ट्रेन में सीट मिलने पर वेट लिस्ट वाले यात्रियों को ओरिजिनल ट्रेन में चढ़ने का विकल्प नहीं मिलेगा।

विकल्प- चुनने वाले यात्री, जिन्हें दूसरी ट्रेन में सीट मिली है, उन्हें ओरिजिनल ट्रेन में वेट-लिस्ट चार्ट में नहीं गिना जाएगा।
जब विकल्प चुनने वाला कोई यात्री सीट मिलने के बाद , कैंसिल करने का विकल्प चुनता है, तो उसकी सीट पक्की हो जाएगी और कैंसिलेशन के नियम पहले की तरह ही अप्लाई होंगे।

You might also like More from author

Comments

Loading...